सुधा कार संग्रहालय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
सुधा कार संग्रहालय

सुधा कार संग्रहालय
सुधा कार संग्रहालय is located in Telangana
सुधा कार संग्रहालय
Location within India Telangana
स्थापित २०१०
स्थान हैदराबाद, भारत
वेबसाइट sudhacars.com

सुधा कार संग्रहालय हैदराबाद, भारत में स्थित एक मोटर-गाड़ी संबंधी संग्रहालय हैं।[1][2][3][4] यह संग्रहालय असाधारण गाड़ियाँ प्रदर्शित करता है जो रोज़मर्रा की वस्तुओं के समान दिखती हैं। ये गाड़ियाँ सुधाकर यादव द्वारा हाथ से बनाई गईं हैं। इन्होंने ये कार्य महाविद्यालय में अपने शौक के रूप में शुरू किया और २०१० में यह समर्पित संग्रहालय खोला।

प्रदर्शन[संपादित करें]

सुधाकर यादव को बचपन से मोटर गाड़ीयाँ और यांत्रो के प्रति आकर्षण था। उन्होंने १४ साल की उम्र में कूड़े से आवश्यक सामान एकत्रित करके अपनी पहली गाड़ी बनाई थी। उसका नाम २००५ में गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में सबसे बड़ी तिपहिया साइकिल बनाने के लिए दर्ज किया गया था। यह ट्राइसाइकल १ जुलाई २००५ को उन्होंने हैदराबाद में चलाई, जिसकी कुल ऊंचाई १२॰६७ मीटर (४१॰६ फीट) थी। ट्राइसिकल के पहिए का व्यास ५॰१८ मीटर (१७ फीट) था और लंबाई ११॰३७ मीटर (३७॰३ फीट) थी।[5][6] यादव और उनका यह संग्रहालय लिम्का बुक ऑफ़ रिकार्ड्स में दर्ज है और धारावाहिक रिप्लेयस बिलीव इट और नॉट! पे भी दिखाया गया हैं।[7]

संग्रहालय में प्रदर्शित सभी गाड़ियों के साथ उनकी जानकारी लिखी है। इसमें उसका निर्माण समय और अधिकतम गति का उल्लेख है। इस संग्रहालय में दुनिया की सबसे छोटी डबल डेकर बस है, जो १० लोगों को समायोजित कर सकती हैं। छोटे आकार में बारह अलग-अलग मोटर साईकिल प्रदर्शित हैं जिनमें से ३३ सेंटिमीटर (१३ इंच) की ऊंचाई की सबसे छोटी मोटर साईकिल है जो ३० किलोमीटर प्रति घंटे (१९ मील प्रति घंटे) की रफ्तार से चल सकती है।[7]

यादव बताते हैं कि कुछ गाड़ियाँ विशेष अवसरों को ध्यान में रखते हुए बनाई हैं। जैसे कि अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के लिए उन्होंने एक कार को एक पर्स और ऊंची एड़ी के जनाना जूते के रूप में बनाया था जिसे ६ सीसी इंजन द्वारा संचालित किया गया था। बाल दिवस के लिए उन्होंने एक कलम, पेंसिल और पेंसिल शापनर पर आधारित गाड़ियों की रूप-रेखा बनाई थी। विश्व एड्स दिवस को मनाने के लिए एक कंडोम के आकार की गाडी का अनावरण किया गया था।[8]

उनके घर में बनी गाड़ियों के निर्माण की लागत पाउण्ड स्टर्लिंग १,०००-१,८०० (रू ८५,००० - रू १,५०,०००) के आसपास होता है; लेकिन ये बिक्री के लिए नहीं हैं। गाड़ियाँ अक्सर सड़क पर प्रस्तुत की जाती हैं ताकि संग्रहालय के बाहर लोग उन्हें चलते हुए देख सके।[9]

दीर्घा[संपादित करें]

प्रदर्शन मे गाड़ीयाँ
पर्स के रुप में 
ऊँची एड़ी के जनाना जूते के रुप में 
जूते के रुप में 
हेलमेट के रुप में 
कैमरा के रुप में 
शौचालय के रुप में 
कंडोम के रुप में 
सोफ़े के रुप में 
बर्गर के रुप में 
शिवलिङ्ग के रुप में 
संगणक के रुप में 

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. गोयल, अनुरधा (१८ मई २०१३). "Strange sites [अजीब स्थान]" (अंग्रेज़ी में). द हिन्दू. http://www.thehindu.com/features/magazine/strange-sites/article4720637.ece. अभिगमन तिथि: ९ अगस्त २०१६. 
  2. जेम्स रश (२ जुलाई २०१३). "Wacky Races! Indian inventor builds around 700 weird and wonderful road legal cars in the shape of everyday objects including a huge burger and an over-sized tennis ball [निराली दौड़! भारतीय आविष्कारक रोजमर्रा की वस्तुओं के आकार में करीब ७०० अजीब और बढ़िया सड़क कानूनी कारों का निर्माण करता है जिनमें एक विशाल बर्गर और एक अति आकार के टेनिस बॉल शामिल है]" (अंग्रेज़ी में). डेली मेल. http://www.dailymail.co.uk/news/article-2377840/Indian-inventor-Sudhakar-Yadav-builds-700-road-legal-cars-shape-everyday-objects.html. अभिगमन तिथि: ८ अगस्त २०१६. 
  3. "Sudhakar attempts another record by designing 26-ft tall car [सुधाकर २६ फुट लंबी कार डिजाइन करके एक और रिकॉर्ड के प्रयास मे]" (अंग्रेज़ी में). इंडिया टुडे. 17 October 2015. http://indiatoday.intoday.in/auto/story/sudhakar-attempts-another-record-by-designing-26-ft-tall-car/1/501117.html. अभिगमन तिथि: ८ अगस्त २०१६. 
  4. इतीश्री समल (११ जनवरी २०१३). "Wacky, hand-made cars in Hyderabad museum [हैदराबाद संग्रहालय में निराली, हाथ से बनी कारें]" (अंग्रेज़ी में). रेडीफ़्फ़. http://www.rediff.com/money/slide-show/slide-show-1-auto-wacky-hand-made-cars-in-hyderabad-museum/20130111.htm. अभिगमन तिथि: ८ अगस्त २०१६. 
  5. "Largest tricycle [सबसे बड़ी तिपहिया साइकिल]" (अंग्रेज़ी में). गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स. १६ अगस्त २०१६. http://www.guinnessworldrecords.com/world-records/largest-tricycle. अभिगमन तिथि: १६ अगस्त २०१६. 
  6. "India man eyes record with 26-foot-high car [२६ फुट ऊंची कार के साथ भारतीय व्यक्ति ने रिकॉर्ड पर आँखें गढाई]" (अंग्रेज़ी में). बीबीसी. ७ अक्टुबर २०१५. http://www.bbc.com/news/world-asia-india-34464790. अभिगमन तिथि: १६ अगस्त २०१६. 
  7. "India's own version of Ripley's Believe It or Not; this car museum in Hyderabad has it all! [रिप्लेज् बिलीव्ह इट और नॉट का भारत का अपना संस्करण; हैदराबाद में इस कार संग्रहालय में सब कुछ है!]" (अंग्रेज़ी में). द न्युज मिनीट. २१ मार्च २०१५. http://www.thenewsminute.com/lives/496. अभिगमन तिथि: १६ अगस्त २०१६. 
  8. फ्रेड्रीक, प्रिन्स (२६ सितम्बर २०१४). "Cause crafts car [कारण से शिल्पी कारें]" (अंग्रेज़ी में). द हिन्दू (चेन्नई). http://www.thehindu.com/features/metroplus/from-social-work-to-plain-creativity-representational-automobile-design-spans-a-wide-range/article6419538.ece. अभिगमन तिथि: १६ अगस्त २०१६. 
  9. "Crazy car museum: Sudhakar Yadav's collection of homemade vehicles [पागल कार संग्रहालय: सुधाकर यादव की घर पर बनी वाहनों का संग्रह]" (अंग्रेज़ी में). डेली टेलीग्राफ. http://www.telegraph.co.uk/news/picturegalleries/howaboutthat/11113517/Crazy-car-museum-Sudhakar-Yadavs-collection-of-homemade-vehicles.html. अभिगमन तिथि: ८ अगस्त २०१६. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]